Carona Virus

चीन में फैला हुआ कॅरोना वायरस जो कि एक खतरनाक रूप में आया हैं, 
Carona Virus that has spread in China in a dangerous form,
Now it is spreading in India too, 
so Prevention is the Only Cure,
Avoid eating ice cream, kulfi, all types of cold drinks, all kinds of preservative foods, canned food, milk shake, raw ice ie gola chuski, milk shake or milk sweetener 48 hours old for the next 90 days.
Stayed until the heat is above 35 ℃
Because these viruses die at temperatures above 35 ℃.
Share the information with all the recipients and keep a guard.
https://bit.ly/2O7feTP

Most Urgent,Very Serious, Important information📣

Ministry of health’s emergency notification to the public that the Coronavirus influenza outbreak this time is very very serious & fatal. There's no cure once you are infected.

Its spreading from China to various countries

The prevention method is to keep your throat moist, do not let your throat dry up. Thus do not hold your thirst because once your membrane in your throat is dried, the virus will invade into your body within 10 mins.

Drink 50-80cc warm water, 30-50cc for kids, according to age. Everytime u feel your throat is dry, do not wait, keep water in hand. 

Do not drink plenty at one time as it doesn’t help, instead continue to keep throat moist.

Till end of March 2020, do not go to crowded places, wear mask as needed especially in train or public transportation Avoid fried or spicy food and load up vitamin C.

The symptoms/ description are

1.repeated high fever
2.prolonged coughing after fever
3.Children are prone
4.Adults usually feel uneasy,*headache and mainly respiratory related
5: highly contagious🚨

Pls share if you care for human life!🙏😇


चीन में फैला हुआ कॅरोना वायरस जो कि एक खतरनाक रूप में आया हैं, 
अब अपने भारत मे भी फैल रहा हैं इसलिए बचाव ही उपचार हैं, 
आने वाले 90 दिनों तक आईसक्रीम, कुल्फी, सभी प्रकार की कोल्ड ड्रिंक्स, सभी प्रकार के प्रिज़र्वेटिव फूड्स, डिब्बा बंद भोजन, मिल्क शेक, कच्चा बर्फ यानी गोला चुस्की, मिल्क शेक या मिल्क स्वीटनर 48 घंटे पुराने खाने से बचे, 
तेज़ गर्मी यानी 35℃ से ज्यादा होने तक रुके 
क्योंकि ये वायरस 35℃ से ज्यादा तापमान पर मर जाता हैं। 
सूचना सभी मिलने वालों से शेयर करे और बचाव रखे।

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
https://bit.ly/2O7feTP


स्वस्थ्य मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय
भारत सरकार द्वारा जारी डिजिटल निर्देश



कोरोना वायरस

लक्षण - हल्का बुखार, ज़ुकाम, सिर दर्द

उपचार - अभी उपलब्ध नही

संक्रमण के 7 दिन के अंदर मौत निश्चित

यह रोग असल मे चमगादड़ और सांप में होता है, लेकिन चीन में चमगादड़ के सूप पीने की वजह से यह मनुष्यों में फैला है !

छींकने और सम्पर्क में आने से फैल रहा है यह खतरनाक वायरस !

बचाव -
● यात्रा करते वक़्त मास्क ज़रूर पहने !
● किसी भी जुकाम या सर्दी से पीड़ित व्यक्ति का तुरंत इलाज कराए
● सांप और पक्षियों का सेवन बिल्कुल भी न करे 
● किसी व्यक्ति से हाथ मिलाने के बाद बिना धोए अपने आंख को न छुये


इस संदेश को अपने सभी प्रियजन को जल्दी से भेजे

अधिकांश तत्काल, बहुत गंभीर, महत्वपूर्ण जानकारी



जनता के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय की आपातकालीन अधिसूचना है कि इस बार कोरोनावायरस इन्फ्लूएंजा का प्रकोप बहुत गंभीर और घातक है। संक्रमित होने के बाद कोई इलाज नहीं है।



इसका चीन से लेकर विभिन्न देशों में प्रसार हुआ



रोकथाम विधि यह है कि अपने गले को नम रखें, अपने गले को सूखने न दें। इस प्रकार अपनी प्यास को न पकड़ें क्योंकि एक बार जब आपके गले की झिल्ली सूख जाती है, तो वायरस आपके शरीर में 10 मिनट के भीतर आक्रमण करेगा।



उम्र के हिसाब से बच्चों के लिए 50-80cc गर्म पानी, 30-50cc पिएं। हर बार यू लगता है कि आपका गला सूखा है, इंतजार मत करो, हाथ में पानी रखो।



एक बार में पर्याप्त मात्रा में न पिएं क्योंकि यह मदद नहीं करता है, इसके बजाय गले को नम रखना जारी रखें।



मार्च 2020 के अंत तक, भीड़-भाड़ वाली जगहों पर न जाएं, विशेष रूप से ट्रेन या सार्वजनिक परिवहन में आवश्यकतानुसार मास्क पहनें, तले हुए या मसालेदार भोजन से बचें और विटामिन सी का सेवन करें।



लक्षण / विवरण हैं



1. तेज बुखार

2. बुखार के बाद खांसी का आना

3. बच्चों को खतरा है

4. वयस्क आमतौर पर असहज महसूस करते हैं, * सिरदर्द और मुख्य रूप से श्वसन संबंधी

5: अत्यधिक संक्रामक

अगर आप मानव जीवन की देखभाल करते हैं तो Pls साझा करें!
आपसे हाथ जोड़कर विनती है पूरे भारतवर्ष में इसको फैला दो
https://bit.ly/2TYtO3G



Comments