Kamal Nath's Admirable Decision 1000 करोड़ रुपये लुटाए शिवराज सरकार ने



1000 करोड़ रुपये लुटाए शिवराज सरकार ने
https://www.anxietyattak.com/2018/12/kamal-naths-admirable-decision.html

The previous BJP Government in MP  has spent unaccounted Money on the wishes of its leaders, due to which the MP State's treasure has become completely empty, but the loan of Rs 2 lakh crore has also climbed on it.

Shivraj Spent  Billions of Rupees

By the way Shivraj Singh Chauhan has spent billions of rupees on his image building and branding, he has also left thousands of rupees on Airplane and Helicopter Travel. 

The extent is that besides the Chief Minister, the ministers of the Government have also thrown a lot of money on Air and Helicopter travel.


With this, the treasure of Madhya Pradesh has become completely empty and now the challenge is to the new CM how he fills this treasure and can repay the loan.

Rs 1000 crore looted by Shivraj Sarkar

According to data of Madhya Pradesh government's finance department, in the previous government, ministers including CM Shivraj have installed government treasury worth Rs. 1000 crore in the name of roaming around the helicopter.

In the BJP government, this kind of unaccounted expenditure has led to debt of children in Madhya Pradesh, and this loan has been above Rs 2 lakh crore.


Kamal Nath's Admirable Decision

State Chief Minister Kamal Nath has decided that if the Chief Minister or any Minister himself has to travel by helicopter now, his expenditure will not be given to the public exchequer.

The person who wants to travel with the helicopter, himself raises his own expenditure, the government will not give any kind of rupee to any minister.

Kamal Nath also announced that he would not make any kind of travel from the government helicopter himself. If necessary, they will travel to helicopters from their expense.

Madhya Pradesh, who is moaning with the burden of debt, needed a Chief Minister like Kamal Nath for a long time. Kamal Nath's decision is as commendable as it is. All Chief Ministers of the country should take lessons from Kamal Nath.











पिछली भाजपा सरकार ने बेहिसाब रुपये अपने नेताओं की ऐय्याशियों पर खर्च किया है जिसकी वजह से राज्य का खजाना पूरी तरह से खाली तो हो ही गया है बल्कि उस पर दो लाख करोड़ रुपये का कर्ज भी चढ़ गया है.



शिवराज ने फूंके अरबों रुपये


जिस तरह से शिवराज सिंह चौहान ने बेहिसाब अरबों रुपये अपनी इमेज बिल्डिंग एवं ब्रांडिंग पर खर्च कर डाले, वैसे ही उन्होंने हेलीकॉप्टर यात्रा पर भी अरबों रुपये बहाये है.

हद तो यह है कि मुख्यमंत्री के अलावा सरकार के मंत्रियों ने भी हेलीकॉप्टर यात्रा पर खूब पैसे फूंके हैं.



इससे मध्य प्रदेश का खजाना पूरी तरह से खाली हो चुका है और अब नए सीएम के सामने चुनौती है कि वो किस तरह से इस खजाने को भरते हैं और कर्ज चुका पाते हैं.


1000 करोड़ रुपये लुटाए शिवराज सरकार ने


मध्य प्रदेश शासन के वित्त विभाग के आंकड़ों के अनुसार पिछली सरकार में सीएम शिवराज समेत मंत्रियों ने हेलीकॉप्टर से घूमने के नाम पर 1000 करोड़ रुपये का चूना सरकारी खजाने को लगाया है.

भाजपा सरकार में इसी तरह के बेहिसाब खर्चों से आज मध्य प्रदेश के बच्चे बच्चे पर कर्ज चढ़ गया है और ये कर्ज 02 लाख करोड़ रुपये से उपर का हो चुका है.


कमलनाथ का सराहनीय फैसला


राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने फैसला लिया है कि अब स्वयं मुख्यमंत्री या किसी भी मंत्री को हेलीकॉप्टर से यात्रा करनी है तो उसका खर्च सरकारी खजाने से नहीं दिया जाएगा.

जिसको हेलीकॉप्टर से यात्रा करनी हो, वह अपना खर्च खुद उठाए, सरकार किसी तरह का 01 रुपया किसी मंत्री को नहीं देगी.

वहीं कमलनाथ ने भी ऐलान किया कि वो स्वयं सरकारी हेलीकॉप्टर से किसी भी प्रकार की यात्रा नहीं करेंगें. बहुत जरुरी होने पर वो अपने खर्च से हेलीकॉप्टर की यात्रा करेंगें.




कर्ज के बोझ से कराह रहे मध्य प्रदेश को काफी समय पहले से कमलनाथ जैसे मुख्यमंत्री की जरुरत थी. कमलनाथ के इस फैसले की जितनी तारीफ की जाए वो कम है. देश के सभी मुख्यमंत्रियों को कमलनाथ से सबक लेनी चाहिए.


Comments