Keep Sending These Messages

* When and how to shower the house's prosperity is in our hands.
The morning bath has given four nicknames in the scriptures.

1 bath bath
That is done between 4 to 5 in the morning.
.
2 Dev Bath
That is done between 5 and 6 in the morning.
.
3 human baths
Which is done between 6 and 8 in the morning.
.
4 demonic baths
That is done after 8am.

▶ Muni bath is the best.
▶ Dev shower is excellent.
▶ Human bath is normal.
▶ Demonic bath is prohibited in religion.
.

No human should take a bath after 8 o'clock.
.
Muni bath .......
👉🏻 provides happiness, peace, prosperity, education, strength, health, consciousness, at home.
.
Dev shower ......
में Provides success, fame, wealth, glory, happiness, peace, contentment, in your life.
.
Human bath .....
में Provides success in work, fortune, sense of good deeds, unity in family, happy,
.
Demonic bath .....
👉🏻 Provides poorness, loss, distress, money loss, trouble,
.
No human should take a bath after 8th.
.
This is why in the olden days, all the sun used to wash before sunrise.

Especially the woman who was at home. Whether that woman is in the form of a mother, be in the form of a wife, in the form of a sister.
.
Explaining this, elder elderly people should have a bath before the sun emerges.
.
By doing so wealth, Vaibhav Lakshmi, always lives in your house.
.
At that time ...... a whole family full of family earning from the earning of a single person, and even today, even four members earn a family, even then they are not fulfilled.
.
We are the reason for that. We have made new rules to break the old rules for our convenience.
.
The law of nature ......, whatever does not follow its rules, the adverse consequences of it all get.
.
Therefore, follow some rules in your life and follow them.
.
It is good for you, it is good for your loved ones.
.
Man Avatar did not get repeatedly
.
Make your life happy.

Make some necessary rules to live life.
☝🏼 Remember! 👇🏽
 Giving services without giving a rite, it is the reason for the downfall.
If you did not give the children to the facilities, then maybe she would cry for a while.
If they do not give a ritual, they will cry for a lifetime.
After death a question will be asked, tell your fingerprints.
answer:-
Start with the little finger of your hand: -
(1) Water
(2) pathway
(3) sky
(4) air
(5) fire
These are things that few people will know.

5 laughing is worth crores of sin
1. In Cremation
2. behind the scenes
3. In shock
4. In the temple
5. In the story

Send this message only 1 time, many people will avoid these sins.

Are you alone
Remember God.

Bothered
Read the Granth.

Depressed
Read the stories.

Are you in tension?
Read the Bhagavad Gita.

free?
Do good things
O God, please bless us and all the creatures ...

information
Do you know ?
The Hindu scriptures, Ramayana, Geeta, etc. are not heard from hearing and reading, but if they are cancer then they also die.

Fasting, fasting increases fast, protects head and hair and falls.
Playing clips during Aarti ---- strengthens the heart.

This message will stop sending the Asura but you do not let it happen and send the message to all numbers.

Regularly read the Bhagavad Gita, Bhagwatpurana and Ramayana.
.
'' Cancer ''
There is a dangerous disease ...
Many people treat it to themselves ...
By doing very minor treatment
The disease can be left to a great extent ...
Often people drink "water" after eating ...
After eating the "water" creates the "cancer" molecule '' 'cells' '' in the blood '' oxygen '' ...

"In Hindu texts it is said that ...
Drink 'water' before eating
Elixir "is ...

Drinking 'water' in between meals is 'worship' of the body ...

'Water' before the meal is over
Drink "medicine" is ...

Drinking 'water' after eating
Is home to diseases ...

It is better to drink 'water' sometime after the meal is finished ...

Tell this thing to those who love you more than 'jan'

Hari hari jai jai shri hari !!!

An apple everyday
No doctor

Five almonds per day,
No Cancer

Every day a lemon,
No belly grows.

Every day a glass of milk,
No dwarf (small in height).

Every day 12 glasses of water,
No face problem

Four cashew nuts,
No hunger

Go to the Temple everyday,
No tension

Listen to story everyday
Peace will come to mind

"Fresh water for face".

"Gita's words for the mind".

"Yoga for Health".

And be happy to remember God, to be happy.

Expanding good things is the act of virtue .... Fortunately happiness is written in luck.
In the last days of life, one will accept one for virtue.

As long as you Keep Sending These Messages, you and me will get the virtue of this ...







*स्नान कब और कैसे करें घर की समृद्धि बढ़ाना हमारे हाथ में है।
सुबह के स्नान को धर्म शास्त्र में चार उपनाम दिए हैं।

1  मुनि स्नान।
जो सुबह 4 से 5 के बीच किया जाता है।
.
2  देव स्नान।
जो सुबह 5 से 6 के बीच किया जाता है।
.
3  मानव स्नान।
जो सुबह 6 से 8 के बीच किया जाता है।
.
4  राक्षसी स्नान।
जो सुबह 8 के बाद किया जाता है। 

▶मुनि स्नान सर्वोत्तम है।
▶देव स्नान उत्तम है।
▶मानव स्नान सामान्य है।
▶राक्षसी स्नान धर्म में निषेध है।
.

किसी भी मानव को 8 बजे के बाद स्नान नहीं करना चाहिए।
.
मुनि स्नान .......
👉🏻घर में सुख ,शांति ,समृद्धि, विद्या , बल , आरोग्य , चेतना , प्रदान करता है।
.
देव स्नान ......
👉🏻 आप के जीवन में यश , कीर्ती , धन, वैभव, सुख ,शान्ति, संतोष , प्रदान करता है।
.
मानव स्नान.....
👉🏻काम में सफलता ,भाग्य, अच्छे कर्मों की सूझ, परिवार में एकता, मंगलमय , प्रदान करता है।
.
राक्षसी स्नान.....
👉🏻 दरिद्रता , हानि , क्लेश ,धन हानि, परेशानी, प्रदान करता है ।
.
किसी भी मनुष्य को 8 के बाद स्नान नहीं करना चाहिए।
.
पुराने जमाने में इसी लिए सभी सूरज निकलने से पहले स्नान करते थे।

खास कर जो घर की स्त्री होती थी। चाहे वो स्त्री माँ के रूप में हो, पत्नी के रूप में हो, बहन के रूप में हो।
.
घर के बड़े बुजुर्ग यही समझाते सूरज के निकलने से पहले ही स्नान हो जाना चाहिए।
.
ऐसा करने से धन, वैभव लक्ष्मी, आप के घर में सदैव वास करती है।
.
उस समय...... एक मात्र व्यक्ति की कमाई से पूरा हरा भरा परिवार पल जाता था, और आज मात्र पारिवार में चार सदस्य भी कमाते हैं तो भी पूरा नहीं होता।
.
उस की वजह हम खुद ही हैं। पुराने नियमों को तोड़ कर अपनी सुख सुविधा के लिए हमने नए नियम बनाए हैं।
.
प्रकृति ......का नियम है, जो भी उस के नियमों का पालन नहीं करता, उस का दुष्परिणाम सब को मिलता है।
.
इसलिए अपने जीवन में कुछ नियमों को अपनायें और उन का पालन भी करें ।
.
आप का भला हो, आपके अपनों का भला हो।
.
मनुष्य अवतार बार बार नहीं मिलता।
.
अपने जीवन को सुखमय बनायें।

जीवन जीने के कुछ जरूरी नियम बनायें।
☝🏼 याद रखियेगा ! 👇🏽
 संस्कार दिये बिना सुविधायें देना, पतन का कारण है।
सुविधाएं अगर आप ने बच्चों को नहीं दिए तो हो सकता है वह थोड़ी देर के लिए रोएं। 
पर संस्कार नहीं दिए तो वे जिंदगी भर रोएंगे।
मृत्यु उपरांत एक सवाल ये भी पूछा जायेगा कि अपनी अँगुलियों के नाम बताओ ।
जवाब:-
अपने हाथ की छोटी उँगली से शुरू करें :-
(1)जल
(2) पथ्वी
(3)आकाश
(4)वायु
(5) अग्नि

ये वो बातें हैं जो बहुत कम लोगों को मालूम होंगी ।

5 जगह हँसना करोड़ों पाप के बराबर है
1. श्मशान में
2. अर्थी के पीछे
3. शोक में
4. मन्दिर में
5. कथा में

सिर्फ 1 बार ये message भेजो बहुत लोग इन पापों से बचेंगे ।।

अकेले हो?
परमात्मा को याद करो ।

परेशान हो?
ग्रँथ पढ़ो ।

उदास हो?
कथाएं पढ़ो।

टेन्शन में हो?
भगवत् गीता पढ़ो ।

फ्री हो?
अच्छी चीजें  करो
हे परमात्मा हम पर और समस्त प्राणियों पर कृपा करो......

सूचना
क्या आप जानते हैं ?
हिन्दू ग्रंथ रामायण, गीता, आदि को सुनने,पढ़ने से कैन्सर नहीं होता है बल्कि कैन्सर अगर हो तो वो भी खत्म हो जाता है।

व्रत,उपवास करने से तेज बढ़ता है, सरदर्द और बाल गिरने से बचाव होता है ।
आरती----के दौरान ताली बजाने से दिल मजबूत होता है ।

ये मैसेज असुर भेजने से रोकेगा मगर आप ऐसा नहीं होने दें और मैसेज सब नम्बरों को भेजें ।

श्रीमद् भगवद्गीता, भागवत्पुराण और रामायण का नित्य पाठ करें।
.
''कैन्सर"
एक खतरनाक बीमारी है...
बहुत से लोग इसको खुद दावत देते हैं ...
बहुत मामूली इलाज करके इस
बीमारी से काफी हद तक बचा जा सकता है ...
अक्सर लोग खाना खाने के बाद "पानी" पी लेते हैं ...
खाना खाने के बाद "पानी" ख़ून में मौजूद "कैन्सर "का अणु बनाने वाले '''सैल्स'''को '''आक्सीजन''' पैदा करता है...

''हिन्दु ग्रंथों में बताया गया है कि...
खाने से पहले 'पानी' पीना
अमृत" है...

खाने के बीच मे 'पानी' पीना शरीर की 'पूजा' है ...

खाना खत्म होने से पहले 'पानी'
पीना "औषधि'' है...

खाने के बाद 'पानी' पीना
बीमारियों का घर है...

बेहतर है खाना खत्म होने के कुछ देर बाद 'पानी' पीयें ...

ये बात उनको भी बतायें जो आपको 'जान' से भी ज्यादा प्यारे हैं ...

हरि हरि जय जय श्री हरि !!!

रोज एक सेब
नो डाक्टर ।

रोज पांच बादाम,
नो कैन्सर ।

रोज एक निंबू,
नो पेट बढ़ना ।

रोज एक गिलास दूध,
नो बौना (कद का छोटा)।

रोज 12 गिलास पानी,
नो चेहरे की समस्या ।

रोज चार काजू,
नो भूख ।

रोज मन्दिर जाओ,
नो टेन्शन ।

रोज कथा सुनो 
मन को शान्ति मिलेगी ।

"चेहरे के लिए ताजा पानी"।

"मन के लिए गीता की बातें"।

"सेहत के लिए योग"।

और खुश रहने के लिए परमात्मा को याद किया करो ।

अच्छी बातें फैलाना पुण्य का कार्य है....किस्मत में करोड़ों खुशियाँ लिख दी जाती हैं ।
जीवन के अंतिम दिनों में इन्सान एक एक पुण्य के लिए तरसेगा ।


जब तक ये मैसेज भेजते रहोगे मुझे और आपको इसका पुण्य मिलता रहेगा...
http://www.anxietyattak.com/2018/07/keep-sending-these-messages.html


Comments