Health

मेरी तोंद : मेरा अभिमान

फिटनेस चैलेंज-वैलेंज जैसी मूर्खतापूर्ण मुहिम और कुछ नहीं बल्कि दुबले पतले लोगों का षड्यंत्र है।

पतले- दुबले लोग आदिकाल से हट्टे-कट्टे ताजे लोगों से चिढ़ते हैं।

इसी चिढ़ की देन है कि पतले लोग जानवरों के नाम पर मोटे लोगों को हाथी, गैंडा जैसे नामों से चिढ़ाते हैं।

जबकि सच्चाई ये है कि जंगल में शिकार होने वाले जानवर हमेशा से पतले-दुबले ही रहे हैं और मोटे हाथी की वैभवशाली पर्सनालिटी को देखकर शेर चीता ऐसे ही दूरी बनाकर रखते हैं।

तो सवाल ये होना चाहिए कि पतले होने का फायदा हिरन को क्या मिला, सिवाय शेर का भोजन बनने के। ऐसा भी नहीं है कि हिरन की आयु ज्यादा है।

चार पैरों पर चलने वाले सभी जानवरों में सबसे ज्यादा आयु सबसे मोटे जानवर की ही होती है। ऐसे ही इंसानों में भी है।

किसी भी अस्पताल में सबसे गंभीर रोगी सबसे पतले लोग ही होते हैं और अफवाह फैलाई जाती है कि रोगों का जड़ मोटापा है।

ये अफवाह फैलाता कौन है...? डाक्टर और पतले लोग मिलकर ये अफवाह फैलाते हैं।

डाक्टर का तो फायदा है और पतले लोग जलन के मारे ऐसी अफवाह फैलाते हैं।

राजनीति में भी जहाँ मोटे अमित शाह जैसे लोग सफलता के झंडे गाड़ रहे हैं, वहीं अखिलेश यादव और राहुल गांधी जैसे दुबले-पतले लोग उनके सामने टिक ही नहीं पा रहे हैं।

समय आ गया है कि दुनिया को पतले लोगों के इस षड्यंत्र से अवगत कराया जाए और मोटे लोगों को अपराध बोध से मुक्त कराया जाए।

मेरी तोंद, मेरा अभिमान
जैसे अभियान चलाए जायें।

मोटापे के फायदे बताकर मोटा होने के लिए क्रैश कोर्स चलाया जाए...!

सभी मोटों को समर्पित।
😜😂😂






#New 
#job
#apply
#cv
#resume
#Aviation #StartUp 
#AirCrews #Aviation 
#Best #Asian #Aviation 
#Expo 
#Eextra-Ordinary 
#Team 
#App Developers
#iOS 
#Android

Comments