Q

आज बैठे बैठे अचानक मन में विचार आया, आप भी एक बार विचार जरूर कीजिएगा...


अलग गोरखालैंड की मांग करने वाला
"गोरखा जनमुक्ति मोर्चा" का गठबंधन बीजेपी के साथ है।
आज़ाद नागालैंड की मांग करने वाला
"नागा जनमुक्ति मोर्चा" का गठबंधन बीजेपी के साथ है।
आज़ाद कश्मीर की मांग करने वाली
"पीडीपी" का गठबंधन बीजेपी के साथ है।
आज़ाद खालिस्तान की मांग करने वाला
"अकाली दल" का गठबंधन बीजेपी के साथ है।
केवल मराठियों के लिए महाराष्ट्र की मांग करने वाली "शिवसेना" का गठबंधन बीजेपी के साथ है।
अलग बोडोलैंड की मांग करने वाला
"बोडो जनमुक्ति मोर्चा" का गठबंधन बीजेपी के साथ है।

त्रिपुरा में होने वाली विधानसभा चुनाव में गठबंधन "त्रिपुरा को देश से अलग करने की मांग रखने वाली उग्रवादी संगठन NLFT के साथ गठबंधन"!

वाह, फिर भी भाजपा देशभक्त !

नोट:- यह भक्तो के लिए नहीं है, क्योंकि उनका मानसिक साफ्टवेयर ऐसी चीजों को अस्वीकार कर देता है।।

Comments