SC ST and Gen Cat

एक सज्जन से एक सवाल पूछा गया कि भारत में जनरल कैटेगरी वाला होने पर आपका क्या अनुभव है तो उन्होंने जो जबाब दिया, उसे पढ़िए........  (हिंदी में अनुवाद)

*
*
....................
प्रवेश परीक्षा:
मेरा स्कोर :192
उसका स्कोर :92
जी हाँ हम एक ही कॉलेज में पढ़े.....
_____
College Fees,
मेरी हर सेमिस्टर की फी 30200. (मेरे परिवार की आय 5 lacs से कम है..)
उसकी हर सेमिस्टर की फी 6600. (उसके माता और पिता दोनों अच्छा कमा रहे हैं......)
जी हाँ हम दोनों एक ही होस्टल में रहते थे...
_____
Mess Fees,
मैंन 15000/- हर सेमिस्टर के देता था....
वो भी 15000 हर सेमिस्टर के देता था लेकिन सेमिस्टर के अंत में वो उसे रिफंड होते थे.....
जी हाँ हम एक ही मेस में खाते थे....
_______
Pocket Money,
मेरा खर्चा 5000 था जो कि मैं ट्यूशन और थोड़ा बहुत अपने पिता से लेता था...
वो10000 खर्चा करता था जो कि उसे स्कॉलरशिप के मिलते थे...
जी हाँ हम एक साथ पार्टी करते थे....
_____
CAT 2015,
मेरा स्कोर : 99 percentile. (किसी IIM से एक मिसकॉल का इंतज़ार रहा.)
उसका स्कोर : 63 percentile. ( IIM Ahemedabad के लिए सलेक्ट हुआ)
जी हाँ ऐप्टीट्यूड और रीजनिंग उसे मैंने पढ़ाया था....
_____
OIL Campus recruitement,
मैं : Rejected. (My OGPA 8.1)
वो : selected. (His OGPA 6.9)
जी हाँ हमने एक ही कोर्स पढ़ा था...
______
GATE Score,
मेरा स्कोर : 39.66 (डिसक्वालीफाईड सो INR 1,68,000 की स्कॉलरशिप भी हाथ से गई )
उसका स्कोर : 26 (क्वालीफाईड और INR 1,68,000 के साथ-साथ अतिरिक्त स्कॉलरशिप भी)
जी हाँ हमने एक जैसे नोट्स शेयर किये थे...
______
कौन हूँ मैं ????

मैं भारत में एक जनरल कैटेगरी का छात्र हूँ...
______
दिमाग में बस कुछ सवाल हैं.....

क्या उसके पास चलने के लिए दो पैर नहीं हैं ??

क्या उसके पास लिखने या काम करने के लिए दो हाथ नहीं हैं ??

क्या उसके पास बोलने के लिए मुंह नहीं है ??
क्या उसके पास सोचने के लिए दिमाग नहीं है ??
अगर हैं तो फिर हम दोनों को एक जैसा ट्रीटमेंट क्यों नहीं मिलता ???
मेरे साथ हर कदम पर अन्याय क्यू जनरल कैटिगरी का होने की वजह से।??

ये बात राजनितिक पार्टीयो के बजाय देश के सम्माननीय. न्यायालय के सभी महानुभावों तक पहुंचे
तब तक forward करे

http://facebook-whatsapp-jokes.blogspot.in/2017/08/sc-st-and-gen-cat.html


ताकि देश आरक्षण की दीमक से बरबाद होने से बच जाये।सहमत हो तो फॉरवर्ड करना वरना इसे यही पड़े रहने देना

Comments